हरदोई न्यूज़: युवराज हत्याकांड- पुलिस पर पथराव के बाद जिलाध्यक्ष व राजवर्धन समेत 5 गिरफ्तार।

Jun 11, 2024 - 17:36
 0  21
हरदोई न्यूज़: युवराज हत्याकांड- पुलिस पर पथराव के बाद जिलाध्यक्ष व राजवर्धन समेत 5 गिरफ्तार।

युवराज हत्याकांड के विरोध में पाली जा रहे करणी सेना जिलाध्यक्ष व राजवर्धन सिंह को पुलिस ने रोका

पाली \ हरदोई। युवराज सिंह हत्याकांड को लेकर करणी सेना राष्ट्रीय अध्यक्ष के आवाहन पर मंगलवार को पुलिस एवं प्रशासन के खिलाफ सड़क पर उतर आई, साथ में बसपा नेता राजवर्धन सिंह भी मौजूद थे। पाली कस्बे में दाखिल हो रहे करणी सेना जिलाध्यक्ष अनुज सिंह व राजवर्धन सिंह राजू को पुलिस ने निजामपुर पुलिया पर रोक लिया, सभी सड़क पर बैठकर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।

पुलिस ने काफी समझाने की कोशिश की पर राजवर्धन सिंह राजू व करणी सेना के जिलाध्यक्ष नहीं माने तो पुलिस ने हल्के बल का प्रयोग कर उन्हें उठाने की कोशिश की। करणी सेना और राजवर्धन सिंह के कार्यकर्ताओं से पुलिस की झड़प हो गई, करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने पुलिस पर पथराव भी किया, इसमें कई पुलिसकर्मियों को चोटें आईं। इसके बाद पुलिस ने सडक जाम किए करणी सेना के कार्यकर्ताओं को खदेडा और रास्ता खुलवाया, पुलिस ने करणी सेना के जिलाध्यक्ष अनुज सिंह और राजवर्धन सिंह राजू समेत पांच लोगों को गिरफ्तार करके वज्र वाहन से हरदोई भेज दिया।

सोमवार शाम को फेसबुक पर लाइव आकर करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह वीरू ने खुद के पाली पहुंचने की जानकारी देकर व क्षेत्रीय लोगों से मंगलवार दोपहर 12 बजे पाली पहुंचने की अपील की और प्रशासन को बड़े आंदोलन की चेतावनी भी दी थी। हालांकि वह पाली नहीं पहुंच पाए और उन्हें रास्ते में ही रोक दिया गया।
ज्ञात हो कि बीती 30 मई को पाली कस्बे के मोहल्ला बिरहाना स्थित निर्माणाधीन पुलिस चौकी के पास इस्माइलपुर गांव निवासी युवराज सिंह उर्फ यूवी ठाकुर की विशेष समुदाय के आरोपियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। जिसके बाद से क्षेत्र में लगातार तनाव की स्थिति बनी हुई है।

31 मई को पाली कस्बे में उपद्रव की घटना सामने आई थी, जिसको लेकर पुलिस ने मुकदमा भी दर्ज किया था। दो दिन बाद इस्माइलपुर गांव में करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह वीरू और बसपा नेता राजवर्धन सिंह राजू दर्जनों गाड़ियों के काफिले के साथ पहुंचे, यहां बिना अनुमति जनसभा की जुलूस निकालकर पुलिस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। पुलिस ने बलवा, आचार संहिता उल्लंघन व अन्य गंभीर आरोपों में राजवर्धन सिंह राजू समेत 150 से 200 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया।

करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह व राजवर्धन सिंह राजू ने मांग की कि आरोपियों पर गैंगस्टर एक्ट, रासुका की कार्रवाई हो और उनके घर पर बुलडोजर चलाया जाए। करणी सेना ने पुलिस एवं प्रशासन को इस कार्रवाई के लिए पहले 6 जून तक का समय दिया था, जिसे बढ़ाकर उन्होंने 10 जून कर दिया। मंगलवार 11 जून को करणी सेवा के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह वीरू के आवाहन पर जिलाध्यक्ष और राजवर्धन सिंह राजू कार्यकर्ताओं के साथ पाली आ रहे थे तभी उन्हें निजामपुर पुलिया पर रोक लिया गया।

यहां एहतियातन जनपद के करीब एक दर्जन थानों का पुलिस फोर्स, पीएसी बल तैनात किया गया था। मौके पर एसडीएम सवायजपुर अरुणिमा श्रीवास्तव और क्षेत्राधिकार शाहाबाद अनुज मिश्रा भी स्थिति का जायजा लेते रहे।

पूर्व घोषित धरना प्रदर्शन कार्यक्रम के तहत एकत्र प्रदर्शनकारियों पर पुलिस ने जमकर डंडे फटकारे और लाठी चार्ज किया। निषेधाज्ञा के उल्लंघन के आरोप में समाजसेवी राजवर्धन सिंह को पुलिस ने बलपूर्वक गिरफ्तार कर लिया। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक केशव चंद गोस्वामी ने कहा कि जनपद में धारा 144 लागू है तथा किसी भी प्रकार की विधि विरुद्ध भीड़ को एक स्थान पर एकत्र नहीं होने दिया जाएगा।

कस्बे में 30 मई को इस्माइलपुर निवासी युवराज को दिनदहाड़े नगर के समुदाय विशेष के लोगों ने गोली मार कर उसकी हत्या कर दी थी। जिसको लेकर नगर में काफी आकृष व्याप्त हो गया था। 

वहीं करणी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष वीर प्रताप सिंह जिले के समाजसेवी राजवर्धन सिंह ने संयुक्त रूप से आवाहन किया था कि प्रशासन ने समय रहते युवराज के हत्यारों  पर कड़ी कार्रवाई नहीं की तो वह संयुक्त रूप से 11 जून को धरना प्रदर्शन करेंगे। समाजसेवी  राजवर्धन सिंह  मंगलवार को  नगर में धरना प्रदर्शन करने के लिए आ रहे थे, वहीं पुलिस को भनक लगते ही पुलिस प्रशासन ने उन्हें निजामपुर पुलिया पर उनका काफिला रोककर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। वहीं उनकी गिरफ्तारी को लेकर नगर व क्षेत्र के लोगों में काफी रोष व्याप्त देखा जा सकता है इस हत्याकांड को लेकर तरह-तरह की नगर में चर्चाएं हो रही हैं।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

inanews आई.एन. ए. न्यूज़ (INA NEWS) initiate news agency भारत में सबसे तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार एजेंसी है, 2017 से एक बड़ा सफर तय करके आज आप सभी के बीच एक पहचान बना सकी है| हमारा प्रयास यही है कि अपने पाठक तक सच और सही जानकारी पहुंचाएं जिसमें सही और समय का ख़ास महत्व है।