Breaking
Tue. May 28th, 2024

कानपुर न्यूज़: 7 स्कूलों को बम से उड़ने की मिली धमकी, जांच करने पहुंची पुलिस।

By inanews.org May15,2024
7 schools of Kanpur received bomb threats

कानपुर के 7 स्कूलों को बम से उड़ने की धमकी मिली है आज सुबह पुलिस काम निरोधक दस्ता और डॉग स्क्वायड की टीम स्कूलों में जांच करने पहुंची पुलिस सबसे पहले गुमटी इलाके में श्री सनातन धर्म एजुकेशन स्कूल पहुंची पुलिस को देखकर वहां हड़कंप मच गया बच्चे सहम गए, क्लास रूम से बाहर आ गए कुछ बच्चे रोने लगे प्रबंधन ने तुरंत पेरेंट्स को सूचना दी स्कूल में छुट्टी कर दी गई टीम एक-एक करके सभी स्कूलों की जांच कर रही है।

हालांकि अभी तक बम जैसा कुछ मिला नहीं पुलिस ने बताया जिन स्कूलों को बम से उड़ाने की धमकी मिली है उनमें गुलमोहर बिहार पब्लिक स्कूल, केडीएमए स्कूल, केंद्रीय विद्यालय कैंट, सनातन धर्म एजुकेशन सेंटर, चीटल्स स्कूल, केंद्रीय विद्यालय अरमापुर, वीरेंद्र स्वरूप स्कूल सिविल लाइंस है दरअसल 13 मई को ईमेल के जरिए स्कूलों को धमकी दी गई।

लेकिन उसी दिन वोटिंग के चलते छुट्टी थी इसलिए ईमेल चेक नहीं हुआ 14 मई की शाम जानकारी मिलने के बाद पुलिस को सूचना दी गई ,स्कूल प्रबंधकों ने पुलिस कमिश्नर से बम की धमकी मिलने की शिकायत दर्ज कराई पुलिस की शुरुआती जांच में सामने आया की धमकी भरा ईमेल भेजने में रूसी सरवर का इस्तेमाल हुआ है धमकी भरा ईमेल मिलने के बाद बुधवार को कई स्कूलों ने छुट्टी कर दी पुलिस को शक है कि 13 मई को वोटिंग थी।

उसी को प्रभावित करने के लिए मेल से धमकी भेजी गई थी लेकिन स्कूल प्रबंधकों को इसकी जानकारी बाद में हो सकी जिन स्कूलों को उड़ाने की धमकी दी गई उनमें कई स्कूल मतदान केंद्र बनाए गए थे वोटिंग वाले दिन दहशत का माहौल बनाने की साजिश थी गुलमोहर पब्लिक स्कूल की प्रिंसिपल अमित तिवारी ने बताया कि पुलिस ने पूरे स्कूल की जांच की बम निरोधक दस्ते ने भी चप्पे-चप्पे की छानबीन की लेकिन कुछ भी नहीं मिला आज को स्कूल बंद कर दिया गया है।

कल से अपने समय पर स्कूल खुलेगा पुलिस ने बताया स्कूलों को एहतियात बरतने का निर्देश दिया गया है ईमेल वाईफाई नेटवर्क के जरिए भेजी गई है या वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क का इस्तेमाल किया है इसका पता किया जा रहा है इंस्ट्रूमेंट के नाम से आई ईमेल को भेजने के लिए जीमेल का इस्तेमाल किया गया है।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *