कानपुर मेट्रोः स्वदेशी कॉटन मिल के पास कट एण्ड कवर शाफ्ट में ‘आजाद‘ टनल बोरिंग मशीन को लोअर करने की प्रक्रिया हुई शुरू ।

Jun 16, 2024 - 21:07
 0  53
कानपुर मेट्रोः स्वदेशी कॉटन मिल के पास कट एण्ड कवर शाफ्ट में ‘आजाद‘ टनल बोरिंग मशीन को लोअर करने की प्रक्रिया हुई शुरू ।

सबसे पहले टनल बोरिंग मशीन के मिडिल शील्ड को उतारा गया नीचे;  2 किमी के आखिरी स्ट्रेच  पर कानपुर सेंट्रल तक बनेगी टनल 

कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के कॉरिडोर-1 (आईआईटी से नौबस्ता) के अंतर्गत मैकरॉबर्टगंज स्थित कट एण्ड कवर शाफ्ट से कानपुर सेंट्रल तक दोनों ‘अप-लाइन‘ और ‘डाउनलाइन‘ टनल का निर्माण पूरा किया जा चुका है। इसके बाद अब कानपुर सेंट्रल से स्वदेशी कॉटन मिल के पास स्थित रैंप एरिया तक लगभग 2 किमी लंबे स्ट्रेच पर ही टनल का निर्माण शेष है। कानपुर मेट्रो ने आज से इस स्ट्रेच पर टनल निर्माण के लिए टनल बोरिंग मशीन (टीबीएम मशीन) को जमीन के नीचे उतारने या लोअर करने के प्रक्रिया की शुरूआत भी कर दी है।

कानपुर मेट्रो के इंजीनियरों की टीम ने शनिवार और रविवार के दरमियानी रात स्वदेशी कॉटन मिल के पास स्थित कट एण्ड कवर के लॉन्चिंग शाफ्ट में ‘आजाद‘ टनल बोरिंग मशीन (टीबीएम मशीन) के पहले भाग ‘मिडिल शील्ड‘ को जमीन के नीचे उतारा या लोअर किया। यूपीएमआरसी और कॉन्ट्रैक्टिंग एजेंसी के वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में टीबीएम के इस हिस्से को दो क्रेनों की सहायता से लगभग 13 मीटर गहरे शाफ्ट में उतारकर क्रेडल पर परिस्थापित किया गया। आने वाले दिनों में इस टीबीएम मशीन के अन्य हिस्सों; फ्रंट शील्ड, टेल शील्ड और कटर हेड को भी लॉन्चिंग शाफ्ट के अंदर उतारा जाएगा।

शाफ्ट में उतारने के बाद ‘आजाद‘ टीबीएम मशीन के सभी भागों को संरेखित करने और यांत्रिक घटकों, तारों आदि से जोड़ने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। जिसके बाद इसे ‘अप-लाइन‘ पर कानपुर सेंट्रल की दिशा में लॉन्च कर दिया जाएगा। यह टीबीएम मशीन एक बार लॉन्च होने के बाद ट्रांसपोर्ट नगर और झकरकटी स्टेशन होते हुए जमीन के अंदर ही अंदर टनल निर्माण करते हुए कानपुर सेंट्रल के रीट्रीवल शाफ्ट तक पहुंचेगी। इस स्ट्रेच के ‘डाउनलाइन‘ पर ‘विद्यार्थी‘ टीबीएम मशीन द्वारा टनल निर्माण किया जाएगा जो 'आजाद' से कुछ दिनों के अंतराल पर लॉन्च की जाएगी। 

इस अवसर पर यूपीएमआरसी के प्रबंध निदेशक  सुशील कुमार ने खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि, “कानपुर मेट्रो द्वारा आज स्वदेशी कॉटन मिल के निकट स्थित रैंप एरिया से कानपुर सेंट्रल मेट्रो स्टेशन तक लगभग 2 किलोमीटर लंबे स्ट्रेच में टनल निर्माण के लिए टीबीएम मशीन लोअर करने की प्रक्रिया आरंभ कर दी गई है। इस स्ट्रेच पर दोनों टनल का निर्माण हो जाने के बाद कॉरिडोर-1 के टनलिंग का कार्य पूरा हो जाएगा। मुझे खुशी है कि कानपुर मेट्रो की टीम शहर के सबसे भीड़भाड़ वाले और व्यस्ततम इलाकों के नीचे से टनल निर्माण के चुनौतीपूर्ण कार्य को सफलतापूर्वक अंजाम दे रही है। समय की बचत के लिए हम टनल निर्माण के साथ ही ट्रैक और स्टेशन का निर्माण भी कर रहे हैं। सिस्टम इंस्टॉलेशन का कार्य भी साथ-साथ किया जा रहा है।‘‘

वर्तमान में, लगभग 24 किमी लंबे कॉरिडोर-1 (आईआईटी-नौबस्ता) के अंतर्गत कानपुर मेट्रो की यात्री सेवाएं 9 किमी लंबे प्रॉयरिटी कॉरिडोर (आईआईटी-मोतीझील) पर चल रहीं हैं। चुन्नीगंज-नयागंज और कानपुर सेंट्रल-ट्रांसपोर्ट नगर भूमिगत सेक्शन के अलावा लगभग 5 किमी लंबे बारादेवी-नौबस्ता एलिवेटेड सेक्शन में भी निर्माण कार्य तेजी से आगे बढ़ रहा है। लगभग 8.60 किमी लंबे कॉरिडोर-2 (सीएसए-बर्रा 8) के अंतर्गत रावतपुर-डबल पुलिया अंडरग्राउंड सेक्शन का निर्माण कार्य भी आरंभ हो चुका है, साथ ही इस कॉरिडोर के एलिवेटेड सेक्शन पर भी प्री-कंस्ट्रक्शन स्टेज का कार्य प्रगति पर है।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

inanews आई.एन. ए. न्यूज़ (INA NEWS) initiate news agency भारत में सबसे तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार एजेंसी है, 2017 से एक बड़ा सफर तय करके आज आप सभी के बीच एक पहचान बना सकी है| हमारा प्रयास यही है कि अपने पाठक तक सच और सही जानकारी पहुंचाएं जिसमें सही और समय का ख़ास महत्व है।