मध्यप्रदेश न्यूज़: रेंजर की मिलीभगत से साफ हो गया कई हेक्टेयर प्लांटेशन, अधिकारी बेखबर।

Jul 1, 2024 - 13:59
 0  48
मध्यप्रदेश न्यूज़: रेंजर की मिलीभगत से साफ हो गया कई हेक्टेयर प्लांटेशन, अधिकारी बेखबर।

मध्यप्रदेश राज्य निगम की रामपुर भतोड़ि परियोजना बैतूल की चुनाहजुरी में कट गई प्लांटेशन की हजारों ताजी बल्लियां ,रेंजर की मिलीभगत से साफ हो गया कई हेक्टेयर प्लांटेशन, अधिकारी बेखबर 

एक ओर तो मध्यप्रदेश सरकार ग्लोबल वार्मिंग के चलते भीषण गर्मी की मार से बचने के लिए तरह तरह के पौधरोपण अभियान चला रही है वहीं मध्यप्रदेश वन विकास निगम की बैतूल की रामपुर भतोड़ि परियोजना में रेंजर की लापरवाही से लाखों रुपये के सागौन प्लांटेशन का सफाया कर दिया गया।

सूत्रों के हवाले से मिली जानकारी के अनुसार इसी प्लान्टेशन की सफाई के नाम पर छह सालाना सफाई में नाम पर रेंजर ने लाखों रुपयों का फर्जी भुगतान अपने परिचितों के खाते में करके पूरा पैसे की बंदरबांट कर ली है और मौके पर प्लान्टेशन की सारी बल्लियां रेंजर ने कटवा दी और इसी के चलते विभाग को लाखों का चूना लगाया जा रहा है।

कई हेक्टेयर प्लान्टेशन का सफाया कर दिया गया है और खेती के लिए तैयार की जा रही है जमीन पर इस ओर कोई ध्यान देने वाला है ही नही हमने जब इस मामले की जानकारी लेने मौके पर पहुँचकर देखा तो चुनाहजुरी द्वितीय रेंज की काजली बीट में कम्पार्टमेंट नम्बर 219 में सागौन प्लान्टेशन की हजारों बल्लियां सफा कर दी गई है मौके पर आसपास के रहवासियों द्वारा बताया गया कि ये सारी बल्लियां रेंजर के संरक्षण में साफ की गई है और तो और सफाई के नाम पर भी पूरा पैसा निकाल लिया गया है।

वहीं रामपुर भतोड़ि के डीएम डबल प्रभार के चलते बैतूल में रहते ही नही है शिकायतें होने के बावजूद भी आज तक  इस रेंज की किसी भी बीट का निरीक्षण ही नही किया गया न मौके पर रेंजर जाते है न ही डीएम जाते है  मामलों में जांच के नाम पर खानापूर्ति ही कि जाती है। 

इस बात से तो यह भी समझ आता है कि इस पूरे मामले में रेंजर को डीएम का खुला संरक्षण प्राप्त है इसी के चलते इस तरह शासन के लाखों रुपयों की बंदरबाट की जा रही है। 

 इस मामले को लेकर हमारे द्वारा उच्चाधिकारियों से संपर्क कर संज्ञान में डाला गया तो उच्चाधिकारियों का भी जवाब संतोषजनक नही मिला इस बात से तो यह भी  प्रतीत होता है कि मामले में अधिकारी भी संलिप्त है और हर बार निरीक्षण के नाम पर गेस्ट हाउस में रुककर अपना हिस्सा लेकर निकल जाते है ।अब देखना यह है कि खबर चलने के बाद इस मामले में निष्पक्ष जांच की जाएगी या मामले को रफा दफा कर ये खेल जारी रहेगा। 

शशांक सोनकपुरिया, बैतूल मध्यप्रदेश

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

inanews आई.एन. ए. न्यूज़ (INA NEWS) initiate news agency भारत में सबसे तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार एजेंसी है, 2017 से एक बड़ा सफर तय करके आज आप सभी के बीच एक पहचान बना सकी है| हमारा प्रयास यही है कि अपने पाठक तक सच और सही जानकारी पहुंचाएं जिसमें सही और समय का ख़ास महत्व है।