Breaking
Tue. May 28th, 2024

वाराणसी न्यूज़: नरेंद्र मोदी ने पुष्प नक्षत्र में दाखिल किया वाराणसी लोकसभा से नामांकन।

By inanews.org May14,2024
Varanasi News Narendra Modi filed nomination from Varanasi Lok Sabha in Pushpa Nakshatra.

गंगा आरती और कालभैरव के दर्शन के बाद पहुचे निर्वाचन कार्यालय

वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीसरी बार वाराणसी लोकसभा से चुनाव लड़ने के लिए अपना नामांकन मंगलवार को शुभ मुहूर्त पुष्प नक्षत्र में चार सेट में दाखिल किया। इस दौरान चार प्रस्तावक और मुख्यमंत्री उनके साथ मौजूद रहे। प्रस्तावकों में राम मंदिर का मुहूर्त निकालने वाले गणेश्वर शास्त्री और बीजेपी के स्थानीय नेता बैजनाथ पटेल, लालचंद कुशवाहा और संजय सोनकर शामिल रहे।

गणेश्वर शास्त्री ने बताया कि 11.40 बज्र से 12.15 बजे तक शुभ मुहूर्त रहा। प्रधानमंत्री नामांकन के लिए 50 मिनट तक कक्ष में रहे। नामांकन करने का बाद पीएम रुद्राक्ष कंवेंसन सेंटर पहुचे और भाजपा कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। इससे पहले प्रधानमंत्री बीएलडब्लू गेस्ट हाउस से सुबह 9.30 बजे दसास्वमेध घाट पहुचे। जहा उन्होंने गंगा पूजन किया। इसके बाद क्रूज से नमो घाट पहुचे और काशी के कोतवाल काल भैरव के मंदिर में दर्शन पूजन किया।

योगी समेत कई राज्यों के सीएम व केंद्रीय मंत्री रहे उपस्थित

पीएम के नामांकन कार्यक्रम में कलेक्ट्रेट में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी, असम के सीएम हेमंता विश्व सरमा, गुजरात के सीएम भूपेंद्र पटेल, छत्तीसगढ़ के विष्णु देव साय, मध्य प्रदेश के मोहन यादव, राजस्थान के भजनलाल शर्मा, महाराष्ट्र के एकनाथ शिंदे,

हरियाणा के नायब सिंह सैनी, केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले, हरदीप पुरी, पूर्व मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, लोजपा प्रमुख चिराग पासवान, जीतन राम मांझी, उपेंद्र कुशवाहा, यूपी में एनडीए के घटक लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी, अपना दल (एस) अनुप्रिया पटेल, निषाद पार्टी के संजय निषाद, सुभासपा के ओमप्रकाश राजभर, पशुपति पारस आदि की मौजूद रहे।

एक ब्राह्मण, दो ओबीसी और एक दलित बिरादरी से हैं पीएम के प्रस्तावक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्तावकों के नाम पर अंतिम मुहर सोमवार को लगी। प्रधानमंत्री से चर्चा के बाद चार नामों पर मुहर लगाई गई। इससे भाजपा जातिगत समीकरणों को भी साधने में सफल रहेगी। चार प्रस्तावकों में एक ब्राहमण, दो ओबीसी और एक दलित वर्ग से हैं।

प्रधानमंत्री के प्रस्तावकों पर पिछले करीव पंद्रह दिनों से चर्चा चल रही थी। पहले 50 लोगों की सूची तैयार की गई और फिर उसमें 18 नाम तय हुए। उन नामों पर पिछले दिनों गृहमंत्री अमित शाह के साथ राष्ट्रीय महामंत्री सुनील बंसल ने चर्चा की थी। इसमें चार नाम तय किए गए। उन नामों पर सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुहर लगा दी।

ब्राह्मण समाज से गणेश्वर शास्त्री, ओबीसी वर्ग से वैजनाथ पटेल और लालचंद कुशवाहा व दलित समाज से संजय सोनकर का नाम तय किया गया। इस समीकरण से भाजपा ने वाराणसी लोकसभा का जातिगत गुणा भाग साधा है। वैजनाथ पटेल जनसंघ समय के कार्यकर्ता हैं और सेवापुरी हरसोस गांव में रहते हैं।

सेवापुरी और रोहनिया विधानसभा में करीब सवा दो लाख मतदाता हैं। वहीं लालचंद कुशवाह भी ओबीसी समाज से आते हैं और संजय सोनकर दलित समाज से आते हैं। वाराणसी लोकसभा क्षेत्र की बात करें तो यहां 3 लाख से अधिक ब्राह्मण, 2.5 से अधिक गैर यादव ओबीसी, 2 लाख कुर्मी, सवा लाख अनुसूचित जातियों के वोटर हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *