संत कबीर नगर न्यूज़: बस्ती मंडल मुख्यालय से मुख्यमंत्री ने की मंडलीय समीक्षा।

Jul 5, 2024 - 19:44
 0  9
संत कबीर नगर न्यूज़: बस्ती मंडल मुख्यालय से मुख्यमंत्री ने की मंडलीय समीक्षा।
  • लम्बित राजस्व वादों का शत-प्रतिशत गुणवत्तापूर्ण एवं समयबद्धता के साथ करें निस्तारण: मुख्यमंत्री
  • अधिकारीगण नियमित तौर पर जन सुनवाई करें तथा विभागीय कार्यो, योजनाओं के आच्छादन की गुणवत्ता सहित निमार्ण कार्यो की प्रगति आदि का स्थलीय निरीक्षण भी करते रहें: मुख्यमंत्री

संत कबीर नगर (राष्ट्र की परम्परा)। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंडल मुख्यालय बस्ती के आयुक्त सभागार से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से मंडलीय समीक्षा किया।

मुख्यमंत्री  योगी आदित्यनाथ द्वारा मंडलीय समीक्षा के दौरान जनपद के विकास कार्यों, विभागों द्वारा संचालित जन कल्याणकारी एवं लाभार्थीपरक योजनाओं में प्रगति एवं गुणवत्ता सहित जनपद में सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था के सुचारू संचालन की विस्तृत समीक्षा की गयी। इस अवसर पर जिलाधिकारी महेन्द्र सिंह तंवर व पुलिस अधीक्षक सत्यजीत गुप्ता सहित समस्त विभागीय अधिकारीगण कलेक्ट्रेट के एनआईसी कक्ष में उपस्थित रहे। 
मुख्यमंत्री योगी ने मण्डलीय समीक्षा के दौरान प्रधानमंत्री आवास एवं मुख्यमंत्री आवास (ग्रामीण व शहरी) योजना, जल जीवन मिशन (हर घर जल), आपरेशन कायाकल्प, गो-आश्रय स्थल, पशु टीकाकरण, उद्योग विभाग द्वारा संचालित प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा रोजगार योजना, विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना निवेश मित्र पोर्टल, वृक्षारोपड़, सड़को का निर्माण सहित अन्य निर्माण परियोजनाए, राम जानकी मार्ग एवं नई रेल लाइन के निर्माण हेतु भूमि अधिग्रहण की प्रगति, कर राजस्व, संचारी रोग नियंत्रण अभियान सहित स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित समस्त योजनाओं, चिकित्सालयों में चिकित्सकों एवं दवाओं की उपलब्धता सहित मरीजो के इलाज हेतु उपलब्ध मुफ्त सरकारी सेवाओ को सुनिश्चित किया जाना, कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की गुणवत्ता एवं प्रगति के साथ-साथ जनपद में कृषि वैज्ञानिकों की उपलब्धता एवं कृषि में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल एवं किसानों को जागरूक करते हुए उनके खेतों तक तकनीक का प्रयोग, महिला सशक्तिकरण की दिशा में किये जा रहे प्रयास, आपरेशन त्रिनेत्र, आईजीआरएस पोर्टल पर संर्दभों का निस्तारण सहित जनपद में कानून एवं सुरक्षा व्यवस्था के सुचारू संचालन एवं शांति व्यवस्था मुकम्मल रखने के दृष्टिगत पुलिस विभाग की सतर्कता एवं निरोधात्मक कार्यवाहियों आदि के सम्बन्ध में आकड़ेवार जानकारी लेते हुए उन्होंने आवश्यक दिशा-निर्देश व मार्गदर्शन दिया। 

मुख्यमंत्री ने मण्डलीय समीक्षा के दौरान जनपदों के जनप्रतिनिधिगणों से उनके क्षेत्र में शासन-प्रशासन द्वारा चलायी जा रही योजनाओं सहित सड़क निर्माण, गो-संरक्षण, बाढ़ की आशंका सहित विकास के समस्त पहलुओं पर उनका फीड बैक लेते हुए निर्देशित किया कि जन प्रतिनिधिगण भी स्वंय मौके का स्थलीय निरीक्षण करते रहें। योजनाओं के क्रियान्वयन से सम्बंधित फीडबैक ग्रामीणों से लेते रहें। किसी भी दशा में कोई भी पात्र व्यक्ति जन कल्याणकारी योजना से वंचित नही रहना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने अपराध एवं अपराधियों पर तत्काल कार्यवाही करने एवं समाज को भय मुक्त वातावरण दिये जाने की दिशा में हर सम्भव कार्यवाही करने का निर्देश जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक को दिए। 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्व वादों का निस्तारण के संबंध में राजस्व अधिकारियों को निर्देशित किया कि किसी भी स्तर पर जनसामान्य से सम्बंधित वादो का निस्तारण समय सीमा के भीतर अनिवार्य रूप से कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि अगर कोई भी अधिकारी मेरिट के आधार पर आम नागरिक को न्याय नही दे सकता है तो उसके विरूद्ध भी जबावदेही तय की जानी चाहिए। मुख्यमंत्री ने बेसिक शिक्षा एवं माध्यमिक शिक्षा में गुणवत्ता बेहतर बनाये रखने के दिशा में विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया कि नियमित तौर पर विद्यालयों का निरीक्षण अधिकारीगण स्वंय करें। विद्यालय समय पर खुलने चाहिए, विद्यालयों में शिक्षकों की उपलब्धता सुनिश्चित हो। कोई भी बच्चा शिक्षा के अधिकार से वंचित न रहे। सरकार द्वारा विद्यालयों में बच्चों के लिए उपलब्ध करायी जा रही समस्त वस्तुओं/सेवाओं को समय पर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। 

मुख्यमंत्री ने बरसात के मौसम में जनपद में सम्भावित बाढ़ के प्रति संवेदनशील क्षेत्रों, तटबंधों, बाढ़ चौकियों सहित किसी भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए आवश्यक संसाधनों जैसे नाव, गोताखोर, चिकित्सा सुविधा आदि से सम्बंधित समीक्षा/स्थलीय निरीक्षण स्वंय जिलाधिकारी को करने हेतु निर्देशित किया। समय से पूर्व तटबन्धों का शत-प्रतिशत मरम्मत करा दिया जाए। इस संबंध में मुख्यमंत्री ने जन प्रतिनिधियों को भी स्थानीय स्तर पर निरीक्षण करते रहने के निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री ने श्रावण मास एवं मोहर्रम के त्योहारों के दृष्टिगत सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था का अनुपालन सुनिश्चित कराये जाने सहित जनपद के विभिन्न इलाकों में कानून व्यवस्था, बिजली, पानी, साफ-सफाई एवं अन्य आवश्यक सुविधाओं को सुनिश्चित कर लिये जाने के संबंध में सम्बंधित अधिकारियों को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि शहर एवं ग्रामीण इलाकों में शिवालयों सहित समस्त मंदिरों की साफ-सफाई सुनिश्चित करा ली जाए। उन्होंने कहा कि श्रावण मास के दौरान काबड़ियों एवं श्रद्धालुओं द्वारा विभिन्न शिवालयों पर जलाभिषेक किया जाएगा।

उन्होंने निर्देश दिया कि मोहर्रम त्यौहार को सकुशल सम्पन्न कराये जाने के दृष्टिगत सम्बंधित अधिकारीगण यह सुनिश्चित कर लें कि उनके क्षेत्र में किसी भी प्रकार की अव्यवस्था न रहे। उन्होंने कहा कि त्यौहारों को परम्परागत ढंग से मनाया जाए, किसी भी त्यौहार में कोई भी नई परम्परा की शुरूआत न की जाए। मोहर्रम एवं काबड़ यात्रा के लिए जो रूट निश्चित हो उसी रूट का पालन किया जाए। आवागमन के रास्तों में विद्युत पोलों, विद्युत तार का संयोजन आदि व्यवस्था को सुनिश्चित कर लिया जाए। कावड़ यात्रा के दौरान डीजे की साइज एवं आवाज की तीब्रता मानक के अनुरूप होना चाहिए। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि सभी कावंड़ मेलो में आये हुए यात्रियो के साथ शालीनता से व्यवहार किया जाये एवं उनकी हर सम्भव मदद के लिये आवश्यकतानुसार यातायात डायवर्जन प्लान को कडाई से लागू कराते हुए ट्रैफिक व्यवस्था दुरुस्त रखी जाए।

मुख्यमंत्री ने समीक्षा के दौरान जिले में खास तौर पर बरसात के मौसम में नालियों की साफ-सफाई, छिड़काव, जल जमाव को रोकने की दिशा में कार्यवाही करने तथा जनपद में डेंगू, जेई/एईएस, दिमागी बुखार की स्थिति से निपटने में स्वास्थ्य विभाग की चिकित्सयी सुविधाओं की उपलब्धता सुनिश्चित बनाये रखने के संबंध में मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित किया।

समीक्षा के दौरान जनपद में वृक्षारोपण के बिन्दु पर जिलाधिकारी महेन्द्र सिंह तंवर द्वारा विगत वर्ष में रोपित किये गये पौधो की आकड़ेवार जानकारी तथा इस वर्ष कराये जाने वाले वृक्षारोपण के संबंध में की गयी समुचित तैयारियों के संबंध में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया। 

समीक्षा के दौरान जनप्रतिनिधि गणों द्वारा अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में विकास कार्यो के कुछ बिन्दुओं पर मुख्यमंत्री का ध्यान आकृष्ट कराते हुए अनुरोध किया गया। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि राजस्व के लंबित वादों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाये। जनसुनवाई में जिलाधिकारी, समस्त उपजिलाधिकारी सुनवाई कर राजस्व के वादों में तत्काल टीम बनाकर प्राथमिकता के आधार पर समस्या का निस्तारण कराया जाये। इसी प्रकार सम्पूर्ण समाधान दिवस, थाना समाधान दिवस में प्रस्तुत वादों को गुणवत्तापूर्ण निस्तारित कराया जाये। 

मुख्यमंत्री योगी ने पुलिस प्रशासन को निर्देशित किया कि जनपद में भू माफिया, खनन माफिया, पेशेवर माफिया एवं अपराधियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही किया जाये। किसी गरीब व्यक्ति को परेशान न किया जाये। जनपद में ला एण्ड आर्डर की समस्या नही उत्पन्न होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रत्येक दशा में जरूरतमंद एवं गरीबों को न्याय मिलना चाहिए। 

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी जयकेश त्रिपाठी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा. रामानुज कन्नौजिया, मुख्य चिकित्साधिक्षक डा. भवनाथ पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी सुरेश चन्द्र केसरवानी, डीसी मनरेगा डा. प्रभात द्विवेदी, पीडी संजय कुमार नायक, उप जिलाधिकारी सदर शैलेश कुमार दूबे, उपायुक्त उद्योग राजकुमार शर्मा, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. यशपाल सिंह,

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी अमित कुमार सिंह, उप कृषि निदेशक डा. राकेश सिंह, जिला आबकारी अधिकारी संजय कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी महेन्द्र कुमार, अधिशाषी अभियंता पीडब्लूडी आरके पाण्डेय, अधिशाषी अभियंता जल निगम संजय कुमार, सूचना अधिकारी सुरेश कुमार सरोज सहित सम्बंधित अधिकारी आदि उपस्थित रहे।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

inanews आई.एन. ए. न्यूज़ (INA NEWS) initiate news agency भारत में सबसे तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार एजेंसी है, 2017 से एक बड़ा सफर तय करके आज आप सभी के बीच एक पहचान बना सकी है| हमारा प्रयास यही है कि अपने पाठक तक सच और सही जानकारी पहुंचाएं जिसमें सही और समय का ख़ास महत्व है।