वाराणसी न्यूज़: एबीवीपी ने बीएचयू केंद्रीय कार्यालय पर किया विरोध प्रदर्शन।

Jul 4, 2024 - 15:26
 0  14
वाराणसी न्यूज़: एबीवीपी ने बीएचयू केंद्रीय कार्यालय पर किया विरोध प्रदर्शन।
  • विश्वविद्यालय में फैली अव्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी, प्राक्टोरियल बोर्ड से हुई धक्का मुक्की

वाराणसी। काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के केन्द्रीय कार्यालय के बाहर गुरुवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया। छात्र विश्वविद्यालय में फैली व्याप्त अव्यवस्थाओं को लेकर धरने पर बैठ गये। छात्रों के विरोध को देखते हुए मौके पर चीफ प्राक्टर और डीन ऑफ स्टूडेंट प्रतोरियाल बोर्ड के साथ मौके पर पहुंचे। केन्द्रीय कार्यालय के मुख्य गेट से पहले छात्रों को रोक दिया गया। उस दौरान छात्रों एवं प्राक्टोरियल के बीच धक्का-मुक्की भी हुई।

इस दौरान छात्रों ने कहा कि परिसर में लगातार हरे पेड़ों की कटाई, शोध प्रवेश प्रक्रिया में देरी, बिना छात्रावास आवंटन के ही छात्रों की कक्षाओं के संचालन और परीक्षा लेने, वायलिन वादन का कोर्स बंद करने के विरोध में हम लोग विरोध प्रदर्शन करने के लिए बाध्य हुए हैं।

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिंदू विश्वविद्यालय इकाई के अध्यक्ष प्रशांत राय ने कहा कि छात्रों का छात्रावास खोले बिना कक्षाओं का संचालन और परीक्षा लेना बिल्कुल गलत है। इस पर रोष व्यक्त करते हुए उन्होंने छात्रावास आवंटन के बाद ही कक्षा संचालन और परीक्षा की मांग की। अभय प्रताप सिंह ने कहा कि विश्वविद्यालय में हरे भरे पेड़ों की कटाई हो रही है और प्रवेश प्रक्रिया में भारी अनियमितता हो रही है।

पिछले बार भी विश्वविद्यालय में 3000 सीट खाली रह गई थी और इस बार वही स्थिति दिखाई दे रही है। पीजी कोर्स में बीएचयू कोटे का मेरिट काफी हाई कर दिया गया है। जिससे यहां पढ़ने वाले छात्र को दाखिला लेने में दिक्कत हो रही है। विश्वविद्यालय प्रशासन के अधिकारी इस गलती को मान रहे हैं लेकिन सुधार नही कर रहे हैं। हमने पांच सूत्रीय मांगों का ज्ञापन दिया है। अगर यह पूरा नहीं होता है तो हम बड़े आंदोलन के लिए बाध्य होंगे।

छात्रों की 5 सूत्रीय मांग

  1. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद काशी हिंदू विश्वविद्यालय इकाई संडे फ़ॉर बीएचयू जैसे अभियान के माध्यम से परिसर को हरा भरा और प्लास्टिक मुक्त बनाने के लिए प्रतिबद्ध है और निरंतर कार्य कर रही है लेकिन विगत कई महीनों से परिसर में धड़ल्ले से हरे पेड़ों की कटाई चल रही है। यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है। अतः हरे पेड़ों की कटाई पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा कर परिसर में व्यापक स्तर पर वृक्षारोपण किया जाए।
  2. विश्वविद्यालय द्वारा पहले के सत्रों में शोध प्रवेश प्रक्रिया पहले से ही प्रभावित हुई है। अतः इस सत्र के लिए शोध में प्रवेश की प्रक्रिया अविलंब प्रारंभ की जाए।
  3. सत्र 2023-24 की नियमित सेमेस्टर परीक्षा देने आने वाले छात्रों का छात्रावास अविलंब खोला जाए। जिससे उन्हें असुविधा का सामना न करना पड़े।
  4. मंच कला संकाय में वायलिन कोर्स को बंद कर दिया गया है। जिससे वहाँ अध्ययनरत विद्यार्थी आगे शिक्षा के लिए चितित हैं। अतः वायलिन कोर्स पुनः प्रारभ किया जाये।
  5. विश्वविद्यालय प्रशासन ने नौ जुलाई से कक्षाओं के संचालन के लिए निर्देशित किया है। लेकिन छात्रावासों में रहने वाले विद्यार्थियों को अभी तक छात्रावास आवंटित नहीं किया गया है। महिला महाविद्यालय में भी यही स्थिति है। कक्षाओं के संचालन से पूर्व सभी प्रकार की छात्रावास आवंटन की प्रक्रिया को पूर्ण किया जाये। जिससे विद्यार्थियों को कोई असुविधा न हो। इस समस्या का शीघ्र निराकरण किया जाए।

What's Your Reaction?

like

dislike

love

funny

angry

sad

wow

inanews आई.एन. ए. न्यूज़ (INA NEWS) initiate news agency भारत में सबसे तेजी से बढ़ती हुई हिंदी समाचार एजेंसी है, 2017 से एक बड़ा सफर तय करके आज आप सभी के बीच एक पहचान बना सकी है| हमारा प्रयास यही है कि अपने पाठक तक सच और सही जानकारी पहुंचाएं जिसमें सही और समय का ख़ास महत्व है।